altaf raja and month name song


भाई कुछ भी कहो, हम तो अलताफ राजा के fan थे और fan है.

अलताफ राजा के एक गाने मैं साल के पुरे १२ महीनो का जिक्र है.
लीजीये प्रस्तुत है उसका हिंदी अनुवाद.

जब तुमसे इत्तफ़ाकन मेरी नज़र मिली थी – अब याद आ रहा है , शायद वो जनवरी थी.
तुम यू मिली दुबारा , फिर महे फ़रवरी मैं – जैसे की हमसफ़र हो , तुम रहे जिंदगी मैं.
कितना हसी जमाना आया था मार्च लेकर, राहे वफ़ा पे थी तुम , वाडो की टोर्च ले कर.
बँधा जो अहदे -उलफत अप्रैल चल रहा था, दुनिया बदल रही थी मौसम बदल रहा था
लकिन मे जब आई जलने लगा जमाना, हर शक्स की ज़बान पर बस यही था फसाना.
दुनिया के दर से तुमने , बदली थी जब निगाहे था जून का महीना , लब पर थी गरम आहे.
जुलाइ मैं जब तुमने जब बातचीत कुछ कम , थे आसमा पे बादल और मेरी आँखे पूर नाम.
महे ऑगस्ट मैं जब, बरसात हो रही थी. बस आसुओ की बारिश दिन रात हो रही थी.
कुछ याद आ रहा है, वो माह था सितंबर , भेजा था तुमने मुझको तार के बफा का लेटर.
तुम गेर हो रही थी, अक्टोबर आ गया था. दुनिया बदल चुकी थी, मौसम बदल चुका था
जब आ गया नवेंबर ऐसी भी रात आई , मुझसे तुम्हे छुड़ाने साज-कर बारात आई.
बे-क्फ था डिसेंबर , जसबात मार चुके थे. मौसम था सर्द उसमे, अरमा पिघल चुके थे

लेकिन ये क्या बतौ अब हाल दूसरा है …

अरे वो साल दूसरा था, ये साल दूसरा है.

क्या बात क्या लिखा है और क्या गाया है, भाई वाह !! मजा आ गया.

12 Comments

  1. Amit
    Posted May 6, 2009 at 11:29 am | Permalink | Reply

    sach me this is pure genius !

    • योगेश साल्वी
      Posted August 3, 2009 at 7:18 pm | Permalink | Reply

      जय महादेव!
      आज भी याद है वोह जीएमआइ की रातें और अल्ताफ राजा का साथ ||
      क्या बात है |
      क्या बात है |🙂

      • Abhishek
        Posted October 7, 2009 at 6:39 pm | Permalink | Reply

        kaafi time ho gaya yeh gaana sune . Altaf bhai great hai. Mumbai GMI wah re wah

  2. RAJESH
    Posted March 1, 2010 at 9:17 am | Permalink | Reply

    altaf raja ki baat hi kuch aur hai main unke sabhi gaano ko padhna chahta hoon iske liye mujhe kya karna padega

  3. zubair
    Posted September 3, 2010 at 3:43 pm | Permalink | Reply

    can you send me the lyrics in hindi in roman text

  4. Posted October 22, 2010 at 1:11 pm | Permalink | Reply

    Mai jab apke gane ko sunati hoon to hairan rah jati hoon ki kisi aawaj me itna dard kaise….
    I really like your total songs…
    Par kuchh gane aise hai jo mere dil ko chhu gaye…

    “Aankh hi na roi hai dil bhi tere pyar me roya hai”
    “Gam judai ka yu to bahut tha magar”

    Your Fan- Ansu Baranwal

    • VISHAL
      Posted December 21, 2014 at 2:07 pm | Permalink | Reply

      MUJE PATA HI NAHI THA KI AP ITNI BADI FAN HAI………

  5. Posted October 22, 2010 at 1:15 pm | Permalink | Reply

    apne gane ki suruat kabse aur kaise ki pls aap mujhe bataye

  6. padam
    Posted March 31, 2011 at 12:56 pm | Permalink | Reply

    yaar ye song khan se milega mujhe ye song chaheye pls pls pls

  7. rajesh
    Posted June 11, 2011 at 10:25 am | Permalink | Reply

    thx fr adding this song.its my favorite song so i m very confused starting sentence this song

  8. James
    Posted September 15, 2011 at 11:23 am | Permalink | Reply

    Koi batayega is gaaney ka naam kya hain aur Kaunse album se hai.. Bohot Dino se is se dhoondh raha hoon…

  9. oneNonly1
    Posted October 21, 2011 at 11:57 pm | Permalink | Reply

    Tum To Thehre Pardesi

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: